फ्री डेमो
subscribe

हेल्पलाइन नंबर : +91 6262041984

कॉल / व्हाट्सएप

सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न

कृष्णा-कमिंग ऐप से गर्भ-संस्कार प्रक्रिया आरंभ करना बहुत ही आसान है । आपको प्ले स्टोर से ‘कृष्णा- कमिंग मोबाइल एप्लीकेशन’ डाउनलोड करना है और अपने ऐंड्रॉयड डिवाइस पर इंस्टॉल करना है। अपनी बेसिक डीटेल्स फीड करने के बाद आप कृष्णा-कमिंग ऐप के सिलेक्टेड फीचर्स का अनुभव, फ्री ट्रॉयल से कर सकते हैं । ऐप के फ़ुल ऐक्सेस के लिए, ‘प्रीमियम प्लान’ सेलेक्ट करें और आपकी गर्भावस्था के महीने के अनुसार दिए गए विभिन्न ऑप्शन्स उपयोग करें।

कृष्णा-कमिंग गर्भ-संस्कार एक मोबाइल एप्लीकेशन है। इसलिए, इसे उपयोग करने के लिए एंड्राइड मोबाइल या टेबलेट की आवश्यकता होगी। डेक्सटॉप या लैपटॉप पर इसका उपयोग अभी संभव नहीं।

गर्भ-संस्कार, अच्छी बातें सिखाने की प्रक्रिया है। इसलिए यह किसी भी माह में आरंभ की जा सकती है। कृष्णा-कमिंग को बनाया ही इस प्रकार गया है कि यदि कोई महिला, प्रेगनेंसी के कुछ माह बाद भी यह कोर्स ज्वाइन करे, तो उसे कोर्स का अधिकतम लाभ मिल सके । इसके अतिरिक्त, पिछले माह के जो एपिसोड्स छूट गए हैं, उन्हें भी सब्सक्राइब तो किया ही जा सकता है।

प्रत्येक युगल के लिए एक विशिष्ट इष्ट-मंत्र होता है, जो कि ज्योतिष विज्ञान में वर्णित गणना के आधार पर होता है। इसके लिए माता व पिता दोनों का जन्म समय व दिनांक जानना आवश्यक है।

यदि, आपको अपने जन्म समय या दिन को लेकर कोई संशय है, तो आप एक अनुमान लेकर, नजदीकी जानकारी दे दें । और यह जानकारी देते समय 'I am not sure', ऑप्शन पर क्लिक कर दें। जिससे, उस समय के ग्रह-नक्षत्रों की स्थिति के आधार पर, आपके लिए इष्ट -मंत्र के लिए गणना की जा सकेगी।

कृष्णा-कमिंग गर्भ-संस्कार कोर्स, स्टेप-बाय-स्टेप उपयोग करने के लिए बनाया गया है। जैसे-जैसे आप वीडियो देखते जाते हैं, अगले वीडियो अनलॉक होते जाएंगे। हर एपिसोड का एक उद्देश्य है, एक निश्चित प्रभाव है। गर्भ-संस्कार की इस एप्लीकेशन का अधिकतम लाभ लेने के लिए, एपिसोड को तय सीक्वेंस में ही देखना चाहिए। अतः हमारी सलाह है कि शिशु के जीवन गढ़ने की इस प्रक्रिया में, किसी भी एपिसोड/वीडियो को स्कीप ना करे।

कृष्णा-कमिंग गर्भ-संस्कार कोर्स, गर्भस्थ शिशु व होने वाली मां के लिए पूरी तरह सुरक्षित है। इस प्रक्रिया में गर्भवती महिला को, केवल कुछ वीडियो देखना होते हैं, कुछ मंत्र तथा संगीत सुनना होते हैं। इस प्रक्रिया का, कोई भी दुष्प्रभाव, होने वाली मां या शिशु को नहीं होता। यह एक समय सिद्ध विज्ञान है, जो भारत के वेद- शास्त्रों में सदियों से उल्लेखित है। और अब तो Cambridge University, London तथा अन्य विश्व प्रसिद यूनिवर्सिटी ने भी अपने रिसर्च के आधार पर गर्भ सांस्कार विज्ञानं को अत्यंत प्रभावी मान लिया है

वैसे तो सही मायनों में, गर्भ संस्कार की प्रक्रिया, गर्भधारण से पहले ही आरंभ हो जाती है। लेकिन कृष्णा-कमिंग का कोर्स अभी केवल उन परिवारों के लिए हैं जहां प्रेगनेंसी कंसीव हो चुकी हैं। जो महिलाएं गर्भ धारण कर चुकी है, उनके लिए उनके प्रेगनेंसी माह के अनुसार, स्टेप-बाय-स्टेप गर्भ- संस्कार प्रक्रिया इस कोर्स में उपलब्ध है।

एक बार एपिसोड अनलॉक होने पर, आप जितनी बार चाहे एपिसोड्स देख सकते हैं। किसी तरह का कोई रिस्ट्रिक्शन नहीं है।

अगर, आपको गर्भ-संस्कार के इस कोर्स को लेकर कोई भी प्रश्न या जिज्ञासा है, तो आप कृष्णा-कमिंग मोबाइल एप्लिकेशन के सेटिंग में जाकर 'Help' ऑप्शन में पूछ सकते है।

नहीं। क्योंकि कोई भी अकाउंट बनाते समय माता व पिता के जन्म समय व तारीख के आधार पर गर्भ संस्कार के संगीत, राग, मंत्र इत्यादि तय किए जाते हैं। जो आप व आपके शिशु के लिए विशिष्ट होता है। जिसका अधिकतम लाभ शिशु पर को मिल पाता है। यह लगभग असंभव है कि किसी और माता-पिता युगल का जन्म समय व दिन, आपसे मिलता जुलता हो। अतः किसी एक युगल के लिए बनाए गए अकाउंट का लाभ, दूसरे युगल को वैसा ही मिले यह सम्भव नहीं। हमारी ओर से सलाह है की आप आपने कलीग या मित्र को दूसरा अकाउंट बनाकर, उसमें उचित जानकारी देकर कृष्ण-कमिंग का अधिकतम लाभ लेने के लिए कहे।

आपके कृष्णा कमिंग अकाउंट में दिया गया इष्ट-मंत्र, पारंपरिक वेद पाठी ब्राह्मणों द्वारा, कठिन नियमों का पालन करते हुए, उच्चारित किया गया है। कठिन नियम, जिनमें उच्चारण के वर्ण, स्वर, मात्रा, बल, सम आदि का भी ध्यान रखा गया है। इसलिए, इन मंत्रों का प्रभाव कई गुना हो जाता है। शास्त्रों में उल्लेखित इन नियमों का पालन करना, किसी सामान्य गृहस्थ के लिए बहुत ही दुष्कर है। अतः इन सिद्ध, वेद पाठी ब्राह्मणों द्वारा जपे गए मंत्रों को आपके द्वारा सुनने मात्र से ही इनकी सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव, आप पर, शिशु पर व पूरे परिवार पर पड़ता है।

जी नहीं । आप गर्भ-संस्कार म्यूजिक को अपने मोबाइल में डाउनलोड नहीं कर सकते हैं।

जी नहीं । कृष्णा-कमिंग का पूरा कोर्स 9 माह की अवधि के लिए ही बनाया गया है। आपका अकाउंट सब्स्क्रिप्शन पिरीयड के बाद ऑटोमैटिक्ली इनैक्टिव हो जाएगा।

कृष्णा-कमिंग पर आपकी प्रेग्नेन्सी-माह के अनुसार, सब्स्क्रिप्शन के अलग-अलग प्लान उपलब्ध है जैसे- 3 माह, 6 माह और 9 माह के प्लान। सब्स्क्रिप्शन के बीच में प्लान कैन्सल करने का ऑप्शन अभी उपलब्ध नहीं है।

1) सिम वाला एंडरोईड मोबाईल या टेबलेट जो की ओपेराटिंग सिस्टम 5.0 या उस से ज़्यादा पर चल रहा हो।

2) कम से कम 2 MBPS का स्थिर ब्रोडबेंड इंटरनेट कनेक्शन या 3G/4G कनेक्शन।

3) आपके मोबाईल या टेबलेट मे एक एक्टिव सिम कार्ड।

९ माह के प्लान मे आप अपना मोबाइल ३ बार बदल सकती है।

इससे छोटे प्लान में केवल १ बार मोबाइल बदलने का ऑप्शन होता है।

आपको मोबाइल बदलते समय कृष्णा-कमिंग की टेक्निकल टीम को सूचित करना होगा।

आप अपना नया पासवर्ड रि-जेनरेट कर सकती हैं। आपको ‘forgot password’ लिंक पर जाकर दिए गए निर्देशो का पालन करना होगा।

गर्भ-संस्कार की प्रक्रिया, वैसे तो आप प्रेग्नेन्सी के किसी भी माह से प्रारम्भ कर सकती है। लेकिन, फिर भी जितना जल्दी हो सके यह प्रक्रिया शुरू कर देना चाहिए। क्यूँकि, प्रत्येक दिवस, आपके शिशु के लिए स्वास्थ्य, बुद्धिमत्ता एवं संस्कारों की दृष्टि से महत्वपूर्ण होता है।

कृष्णा-कमिंग टीम से भारत के शीर्ष मेडिकल एक्स्पर्ट्स जुड़े हैं। उनके द्वारा विभिन्न विषयों पर दी गई सलाह, एक ‘नोर्मल प्रेग्नेन्सी’ को ध्यान में रखते हुए दी गई श्रेष्ठ सलाह है। परंतु, प्रत्येक बॉडी-टाइप, प्रेग्नन्सी कंडिशन, अलग-अलग होती है, और वो आपसे व्यक्तिगत रूप से जुड़ी है। हमारा आग्रह है की मतांतर होने पर, आपको अंतिम सलाह आपके गायनकॉलिजस्ट की ही माननी चाहिए।